Best captions for facebook photos in hindi | Free Photo Captions for facebook in hindi

Best captions for Facebook photos in Hindi | Free Photo Captions for Facebook in Hindi

captions for Facebook photos in Hindi

मुझे क्या डर आओगे तुम मौत का मंजर दिखाकर,

मैं तो पैदा ही कातिलों की गली में हूआ हु।


हमारे जीने का तरीका ही अलग है हम जिंदगी उम्मीदों पर नहीं जींद पर जीते हैं


बात अगर मतलब की है तो मतलब पर आ, भाई भाई करके बाप को मत सिखा।


चर्चे उन्हीं के अलग होते हैं जिनके मिजाज अलग होते हैं


किसी को नीचा दिखाना मेरी फितरत में नहीं,

और कोई मुझे नीचा दिखा कर बच जाए 

यह उनकी किस्मत में नहीं 


देख पागल दिल में प्यार होना चाहिए,

धक धक तो रॉयल इनफील्ड बुलेट मिल करती है 


उड़ने में बुराई नहीं है आप भी उड़े , लेकिन वहां तक जहां से जमीन दिखाई दे।


किस्मत सबको मौका देती है लेकिन मेहनत सबको चौंका देती हैं।


बेटा गेम तो बहुत अच्छा खेला तुमने लेकिन बंदा गलत चुन लिया।


क्या प्यार ,क्या खोना, और क्या रोना-धोना इससे अच्छा है तो सिंगल हो ना।


किस मुकाम पर ले आई है यह मोहब्बत

उसे पाया भी नहीं जा सकता और उसे बुलाया भी नहीं जा सकता।


कमीनों का बाप हूं हरामियों का दादा हु और मेरे पापा king और मैं उनका शहजादा हूं।


जिंदगी की रेस में जो लोग आपको दौड़कर नहीं हरा पाते

वही लोग आपको तोड़कर हराने की कोशिश करते हैं।


मिजाज हमारा समुंदर के जैसा है खारे हैं मगर खरे हैं।


सुन पगली मेरा दिल तेरे अंदर इंस्टॉल मत करना क्या पता तेरे अंदर का सिस्टम हैंग हो जाए।


मिट्टी के घरों में लोग खिदमत से खड़े होते हैं

औकात में भले ही छोटे हो मगर

इंसानियत में बड़े होते हैं।


फर्क सिर्फ जीने वालों को पड़ता है

मैंने सिर्फ सांस लेने की आदत डाल रखी है।


शायरी का बादशाह हूं और कलम मेरी रानी

अल्फाज मेरे गुलाम ,बाकी रब की मेहरबानी।


पटाखों की जगह अहंकार तोड़ दिया,

इस दिवाली धुए की जगह दिल जोड़ दिया।


कोपी तो हमने एग्जाम में भी नहीं की,

तेरा एटीट्यूड किस खेत की मूली है।


कामयाबी हाथों की लकीरों में नहीं माथे के पसीने में होती है।


अपनी किस्मत खुद ही बना जो किस्मत में नहीं उसे पाकर दिखाओ।


किसी मूर्ख से बहस करने से अच्छा है शांत रहा जाए।


आप सत्य को हमेशा साथ रखो , सत्य आपको कहीं और भटकने नहीं देगा , और सत्य आपका जीवन साथी बन जाएगा।



बेशक किसी को माफ बार-बार कर दो,

लेकिन उन पर दोबारा भरोसा मत करो।


यहां सब खामोश हैं कोई आवाज नहीं करता

यहां बेवजह कोई सच बोल कर किसी को उदास नहीं करता।

Post a Comment

0 Comments